जिला कलक्टर ने बिजौलिया उपखंड के गणेशपुरा में की रात्रि चौपाल, सुनी आमजन की परिवेदनाएं..

0
58

जिला कलक्टर ने बिजौलिया उपखंड के गणेशपुरा में की रात्रि चौपाल, सुनी आमजन की परिवेदनाएं..

समस्याओं के मौके पर ही निस्तारण पर ग्रामीणों ने तालिया बजाकर राज्य सरकार तथा जिला प्रशासन का जताया आभार

जिला कलक्टर ने बिजौलिया में उपखंड कार्यालय, तहसील कार्यालय सहित
सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का भी किया निरीक्षण

अस्पताल के वार्ड में भर्ती मरीजों से अपनी कुशलक्षेम पूछकर मरीजों से पूछा-ईलाज लेने में कोई परेशानी तो नही हुई-जिला कलक्टर मेहता

गौरव रक्षक/ राजेन्द्र शर्मा

भीलवाड़ा, 19 जून।

चिकित्सा संस्थान में उपचार कैसा मिल रहा है, उपचार संबंधी किसी प्रकार से कोई कमी तो नहीं है ना…। यह बात जिला कलक्टर नमित मेहता ने बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, बिजोलिया के निरीक्षण के दौरान वार्ड में भर्ती मरीजों की कुशलक्षेम पूछने के दौरान कहीं। जिला कलक्टर ने इस दौरान पूछा कि चिकित्सालय में ईलाज लेने में किसी प्रकार की परेशानी तो नही हुई। इस दौरान भर्ती मरीज तथा उनके परिजनों ने जिला कलक्टर को बताया कि उन्हें अस्पताल में बेहतर उपचार सुविधा मिल रही है किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं है।

जिला कलक्टर ने उपखंड अधिकारी श्री अजीत सिंह को आरएमआरएस की बैठक आयोजित कर चिकित्सा संस्थान में आवश्यक संसाधनों की आपूर्ति के संबंध में निर्देशित किया। जिला कलक्टर ने सीएचसी में मरीजों के लिए बैठक व्यवस्था के लिए भी निर्देशित किया। जिला कलक्टर ने प्रभारी चिकित्सक से अस्पताल में ओपीडी की जानकारी ली। लैब, सोनोग्राफी कक्ष का निरीक्षण किया तथा की जा रहीं जांचों के संबंध में आवश्यक जानकारियां ली। श्री मेहता ने मॉडल सीएचसी के लिए प्रगतिरत वार्ड निर्माण कार्य को शीघ्र करने के निर्देश दिए।

जिला कलक्टर ने उपखंड एवं तहसील कार्यालय का किया निरीक्षण, परिसर में वृक्षारोपण के लिए दिए निर्देश

इससे पूर्व जिला कलक्टर ने उपखण्ड कार्यालय तथा तहसील कार्यालय बिजौलिया का निरीक्षण किया। मेहता ने उपखण्ड कार्यालय की विभिन्न शाखाओं का गहनता से निरीक्षण किया और आमजन की समस्याओं, राजस्व मामलों सहित लंबित प्रकरणों को प्राथमिकता के आधार पर नियमित सुनवाई करते हुए शीघ्र निस्तारित करने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने अधिकारियों से कार्यालय से संबंधित विभिन्न लंबित कार्यों के निस्तारण के बारे में विस्तृत चर्चा की और आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने कार्यालय की साफ-सफाई, विभिन्न दस्तावेजों की जांच, रखरखाव की व्यवस्था सहित विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया। परिसर में वृक्षारोपण के संबंध में भी निर्देशित किया।

जिला कलक्टर ने तहसील कार्यालय में वहां की व्यवस्थाओं का भी निरीक्षण किया। उन्होंने अभिलेखों के रखरखाव और भवन की स्थिति के साथ ही जन सुविधा से जुड़ी पेयजल एवं साफ सफाई की बारीकी से जांच की। उन्होंने तहसील परिसर में स्थित भू अभिलेख कक्ष, रिकॉर्ड रूम के साथ कार्यालय परिसर का निरीक्षण किया। उन्होंने अभिलेखों को पूरी तरह अपडेट रखने के साथ ही लंबित वाद और जन शिकायतों के निस्तारण में तेजी लाने पर भी विशेष जोर दिया। साथ ही, उन्होंने राजस्व न्यायालय में दायर वाद के निर्णय किये जाने तथा राजस्व लक्ष्यो की शत प्रतिशत प्राप्ति के भी निर्देश दिए।

रात्रि चौपाल में आमजन की परिवेदनाओं को सुना

इसके पश्चात जिला कलक्टर ने पंचायत समिति बिजौलिया गणेशपुरा गांव में रात्रि चौपाल की। रात्रि चौपाल को लेकर ग्रामीण काफी उत्साहित दिखे। बड़ी संख्या में आमजन मौजूद रहे। जिला कलक्टर ने ग्रामीणों की समस्याओं को आराम से सुना। इस दौरान आमजन ने जिला कलक्टर के समक्ष विद्युत कटौती, पेयजल आपूर्ति, खेल मैदान विकास, सड़क सुदृढ़ीकरण क्षेत्र में विद्यालय विकास के लिए कक्षा कक्ष निर्माण आदि प्रकरण रखें। जिला कलक्टर ने विद्यालय विकास तथा सड़क सुदृढ़ीकरण के लिए प्रस्ताव डीएमएफटी की बैठक में रखने के लिए संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया। तथा मौके पर ही खेल मैदान के विकास के लिए स्वीकृत राशि की जानकारी दी। जिला कलक्टर ने आमजन के प्राप्त परिवेदनाओं के निस्तारण के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। जिला पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत ने क्षेत्र में कानून तथा शांति व्यवस्था को लेकर जानकारी ली।

इस दौरान उपखंड अधिकारी श्री अजीत सिंह, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद श्री शिवपाल जाट सहित जिला स्तरीय अधिकारी तथा स्थानीय जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here